सेहत

एक सफेद बाल तोडऩे पर नहीं उगते हैं दो नए सफेद बाल

बालों के मामले में ऐसे बहुत से मिथक हैं, जिनका सच जानने का वक्त आ गया है। आए दिन सोशल मीडिया पर भी ऐसे कई घरेलू उपचार और नुसखे बताए जाते हैं, लेकिन इन्हें आजमाने से पहले यह जानना बहुत जरूरी है कि इनमें कितनी सच्चाई है। यहां हम बालों के मामले में कुछ मिथ्य और उनसे जुड़े सत्य को बताने जा रहे हैं।

मिथ्य 1 : करी पत्ता से होते हैं बाल काले

करी पत्ता आमतौर पर सब्जि में झोंक लगाने के काम आता है, लेकिन पिछले कुछ समय से सोशल मीडिया पर आए दिन पढऩे को मिलता है कि करी पत्ता बालों में लगाने से बाल काले होते हैं। कभी इसे हेयरमास्क में मिक्स कर के लगाने को कहा जाता है, तो कभी इसे हिना में मिक्स कर के लगाने की सलाह दी जाती है। आपको बता दें कि यह सत्य नहीं है। करी पत्ता से बाल काले नहीं होते हैं, ऐसा अब तक एक भी शोध सामने नहीं आया है, जिसमें यह साबित हुआ हो कि करी पत्ता से बाल काले होते हैं। सबसे अहम बात यह कि अगर यह आपको सूट नहीं किया तो इससे आपको बाल झडऩे की समस्या हो सकती है।

मिथ्य 2 : बाल काटने से यह तेजी से बढ़ते हैं

ट्रिमिंग करने से बाल के बढऩे का कोई संबंध नहीं है। बालों की ग्रोथ स्कैल्प से होती है ना कि बालों के अंतिम छोर से। हालांकि हर छह से आठ सप्ताह में ट्रिमिंग की सलाह इसलिए दी जाती है, क्योंकि वक्त के साथ बाल नीचे से पतले होने लगते हैं और फिर टूटने लगते हैं, ऐसे में जब उन्हें ट्रिम कर दिया जाता है तो आपको फुलर लुक मिलता है।

मिथ्य 3 : एक सफेद बाल तोडऩे पर दो नए उग जाएंगे

आपने भी कई बार बड़े बुजुर्गों को कहते सुना होगा कि सफेद बाल मत तोड़ों, एक तोड़ोगे तो दो नए उग जाएंगे। यह सच नहीं है। हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि आपको सारे सफेद बाल तोडऩे का मौका मिल गया है, असल में जब भी ज्यादा मात्रा में और बार बार बाल तोड़े जाते हैं तो बालों की जड़ें कमजोर हो जाती हैं।

मिथ्य 4 : शैम्पू से झड़ते हैं बाल

बालों का झडऩा नेचुरल प्रोसेस है। हर इंसान के बाल झड़ते हैं, लेकिन असल में हम इन्हें नोटिस अक्सर शवर लेते समय ही करते हैं। इसके चलते ज्यादातर लोग बालों के झडऩे के लिए शैम्पू को जिम्मेदार ठहरा देते हैं। हालांकि कुछ शैम्पू काफी हार्श भी होते हैं, जिसकी वजह से बाल झड़ सकते हैं, लेकिन माइल्ड शैम्पू से ऐसी समस्या होने की संभावना कम होती है। आमतौर पर स्ट्रेस बढऩे से बाल झड़ते हैं। इसके अलावा प्रेग्नेंसी या फिर मौसम में बदलाव के कारण भी बाल झड़ते हैं।

मिथ्य 5 : सही प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से बाल होते हैं घने

बाल उगाने के लिए आपके शरीर की बहुत सी एनर्जी खर्च होती है। बाल उगने के लिए शरीर में भरपूर मात्रा में न्यूट्रीएंट्स होना जरूरी है। यानी कि बालों के उगने का सीधा संबंध आपकी डायट से है। अगर आप हैल्दी डायट ले रहे हैं, तो आपके बाल, आपकी स्किन और आपके नेल्स इसकी गवाही देंगे। घने बालों के लिए महंगे प्रोडक्ट्स नहीं, बल्कि भरपूर कार्ब्स, प्रोटीन, हैल्दी फैट्स, जिंक, आयरन और विटामिन डी को डायट में शामिल करने की जरूरत है।

Show More

Surat Darpan

Admin Of Surat Darpan. Always Giving Latest News In Hindi.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker