नई दिल्‍ली : देश की राजधानी में एक विवाहिता ने अपने देवर के साथ मिलकर अपने पति की हत्‍या कर दी। यह घटना दरियागंज इलाके के शांतिवन की है। मिली जानकारी के अनुसार, उक्‍त युवती का संबंध अपने देवर के साथ था और इसकी जानकारी उसके पति को लग गई थी। वह इसका विरोध कर रहा था। इसी से चिढ़ कर युवती ने देवर के साथ मिलकर अपने पति को मार डाला। पुलिस ने युवती और देवर को गिरफ्तार कर लिया है।

ऐसे चला पता
मध्य जिला पुलिस उपायुक्त मंदीप सिंह ऱंधावा ने जानकारी दी कि पुलिस को 23 अगस्त को दरियागंज इलाके में सड़ी गली अवस्‍था में एक तीस साल के अज्ञात युवक की लाश मिली। लाश के पास से मिले आधार कार्ड और मोबाइल से उसकी पहचान उत्तम नगर निवासी राजेश के रूप में हुई। जब मोबाइल का कॉल डिटेल्‍स निकाला तो उसे पता चला कि वह अनिता नाम की एक युवती के लगातार संपर्क में था। जब पुलिस उक्‍त महिला से मिली तो उसे पता चला कि वह उसकी पत्‍नी है। उसकी की उम्र भी करीब तीस साल की ही है। जब पुलिस ने अपनी छानबीन आगे बढ़ाई तो उसे पता चला कि अनिता और युवक के 28 साल के भाई विजय ने मिलकर राजेश की हत्‍या की है।

भाभी और देवर में थे नाजायज संबंध
पुलिस को पूछताछ में चौंकाने वाली प्राप्‍त हुई। अनिता ने बताया कि वे लोग उत्‍तर प्रदेश के हाथरस जिले के हैं। इसकी शुरुआत तब हुई, जब वे हाथरस में ही रहते थे। राजेश का भाई विजय अकेला ही रहता है। विजय की पत्नी और उसके बच्चे उसकी हरकतों से तंग आकर उससे अलग रहते हैं। एक दिन विजय अपने भाई राजेश के घर आया तो वह घर पर नहीं था। वह कुछ दिनों के लिए मजदूरी करने के लिए घर से बाहर गया हुआ था। गया हुआ था। उसी दौरान इनकी करीबी बढ़ी और बात नाजयज संबंध तक पहुंच गई। जब राजेश को इस बारे में पता चला तो उसने अपनी पत्‍नी को काफी समझाया और हाथरस छोड़ दिया। वह पत्‍नी के साथ आकर दिल्ली के उत्तम नगर इलाके में रहने लगा। इसके बावजूद विजय ने अनिता का पीछा नहीं छोड़ा। वह दिल्‍ली भी पहुंच जाता था।

दृश्‍यम फिल्‍म से थे प्रभावित
पत्‍नी और भाई की हरकतों से राजेश का अपनी बीवी से झगड़ा होने लगा था। महिला ने बताया कि घटना वाले दिन भी उन दोनों की लड़ाई हुई थी। इसके बाद राजेश अपने भाई की हरकतें बताने गांव जा रहा था।
राजेश का उससे झगड़ा हुआ था, जिसके बाद वह घर से गांव के लिए निकल गया था। राजेश गांव जाने के लिए रेलवे स्टेशन पहुंचा ही था कि विजय व अनीता ने राजेश की हत्या की साजिश रची। दोनों उसे मनाकर शांतिवन ले गए और वहीं गमछा से गला घोंटकर उसकी हत्‍या कर दी और लाश को वहीं ठिकाने लगा दिया। अनिता और विजय ने बताया कि उन्‍हें हत्‍या का आइडिया फिल्‍म दृश्यम से मिला। वे दोनों इस फिल्‍म से काफी प्रभावित थे।

Published by Surat Darpan

Admin Of Surat Darpan. Always Giving Latest News In Hindi.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *